अरब में 10 भारतीय कामगारों को बंधक बनाने की बात सामने आई है। इन युवकों को कंपनी ने दिसंबर से ही अपने पास बंधक बना कर रखा है। लगातार रिक्वेस्ट करने के बाद भी कम्पनी युवकों की नहीं सुन रही है। ना तो उन सबको पैसे दिया जा रहा है और ना ही उनके वीजा की व्यवस्था की जा रही है।

 

सऊदी में फंसे युवक बिहार के गोपालगंज का रहने वाला है। उसका नाम आजाद अंसारी बताया जा रहा है। आजाद के परिजनों ने उसके वतन वापसी के लिए गोपालगंज के डीएम अरशद अजीज से आवेदन के माध्यम से गुहार लगाई है।

 

 

आजाद के परिजनों ने बताया कि वह अपने 9 दोस्तों के साथ पिछले वर्ष दिसम्बर में सऊदी अरब के अमगाज अलखोबर कांट्रेक्टिंग कंपनी में काम करने गया था। इन दस युवकों को करीमी कंपनी और एशियाना इंटरनेशनल ऑफिस के माध्यम से सऊदी में भेजा गया था।

 

लेकिन सऊदी पहुंचने के बाद कंपनी ने उसे काम पर नहीं रखा। जिद्द करने के बाद कंपनी ने सबको बंधक बना लिया। इन लोगों के पास न तो पैसे और हैं न खाने को कुछ बचा है। जिसके कारण इनकी हालत दिन प्रतिदिन खराब होती जा रही है।

 

आजाद की मां जमीना खातून ने बताया कि उसने अपने बेटे को सूद पर पैसे लेकर सऊदी भेजा था। लेकिन वहां पहुंचने के बाद कंपनी ने उसे धोखा दे दिया। कंपनी ने उसे काम भी नहीं दिया और उसे बंधक बना लियाGulfHindi.com

बिहार से हूँ। बिहार होने पर गर्व हैं। फर्जी ख़बरों की क्लास लगाता हूँ। प्रवासियों को दोस्त हूँ। भारत मेरा सबकुछ हैं। Instagram पर @nyabihar तथा lov@gulfhindi.com पर संपर्क कर सकते हैं।

Leave a comment