भारतीय गृह मंत्रालय द्वारा भारत में नए 117 मोबाइल एप्लीकेशन को कभी भी ब्लॉक किया जा सकता है और इस बाबत कार्यवाही आरंभ कर दी गई है. यह मोबाइल एप्लीकेशन चीन फिलीपीन और नाइजीरिया से जुड़े हुए हैं और मुख्य रूप से लोन, डेटिंग या गेमिंग कैटेगरी से संबंध रखते हैं.

इन ऐप से भारतीय लोग लफड़े में फ़स रहे हैं.

इस ऐप के इस्तेमाल कर भारतीय लोगों को फंसाया जा रहा है और लोगों से भारी भरकम रुपए लूटे जा रहे हैं. डेटिंग ऐप का इस्तेमाल करके अच्छा जीवनसाथी या पार्टनर दिलाने के नाम पर गोरखधंधा चल रहा है. वही गेमिंग कैटेगरी में पैसे 2 गुना 3 गुना करने का स्कैम चलाया जा रहा है. इसके साथ ही लोन मोबाइल एप्लीकेशन पर बिना केवाईसी के मुफ्त लोन दिलाने के नाम पर लोगों से जबरन वसूली की जा रही है.

गूगल प्ले पर सक्रिय है 117 मोबाइल एप्लीकेशन.

भारतीय साइबर क्राइम विभाग के द्वारा 500 से अधिक मोबाइल एप्लीकेशन पर प्रतिबंध लगाने की मांग की गई है जिनमें मुख्य आरोप है कि भारतीय डेटा चीन और विदेश के अन्य जगहों पर भेजा जा रहा है.

मोबाइल एप्लीकेशन में लोन दिलाने के नाम पर गोरखधंधा चल रहा है और जांच में पता चला है कि लोन दिलाने के नाम पर काम करने वाली कंपनी को वित्तीय क्षेत्र की कोई लाइसेंस नहीं है.

आपको बताते चलें कि इसी साल फरवरी में गृह मंत्रालय ने 200 से ज्यादा चीनी ऐप पर प्रतिबंध लगाया था जिसमें 138 वेटिंग एप्लीकेशन थे वहीं 94 छोटे-छोटे लोन उधार देने वाले एप्लीकेशन थे.

बिहार से हूँ। बिहार होने पर गर्व हैं। फर्जी ख़बरों की क्लास लगाता हूँ। प्रवासियों को दोस्त हूँ। भारत मेरा सबकुछ हैं। Instagram पर @nyabihar तथा lov@gulfhindi.com पर संपर्क कर सकते हैं।

Leave a comment