सरेंडर और नहीं रिन्यू कराने का शॉकिंग आंकड़ा

बीते पांच साल में 47% भारतीयों ने अपनी जीवन बीमा पॉलिसी को सरेंडर कर दिया या उसे रिन्यू नहीं कराया है। SBI Life की ‘Financial Immunity Report’ के अनुसार, 68% लोग मानते हैं कि उनके पास पर्याप्त बीमा कवर है, लेकिन वास्तव में यह सिर्फ 6% है।

फाइनेंशियल इम्युनिटी और बीमा

रिपोर्ट में कहा गया है कि 71% भारतीय यह मानते हैं कि फाइनेंशियल इम्युनिटी के लिए बीमा जरूरी है। फिर भी, 80% मानते हैं कि बीमा उनकी फाइनेंशियल सुरक्षा के लिए जरूरी है, लेकिन 94% के पास या तो कोई बीमा नहीं है या वह अपर्याप्त है।

अन्य सोर्स इनकम का चयन

37% भारतीयों का मानना है कि उनके पास बीमा के बजाय अन्य सोर्स इनकम है। 41% लोग मानते हैं कि सेकेंडरी इनकम से उनकी फाइनेंशियल स्थिति मजबूत होगी।

महंगाई: मुख्य कारण

महंगाई और मेडिकल का बढ़ता खर्च मुख्य कारण हैं जिससे लोग बीमा पॉलिसी को सरेंडर कर रहे हैं।

महत्वपूर्ण जानकारी

पैरामीटर आंकड़ा
लोग जिन्होंने पॉलिसी सरेंडर की 47%
लोग जो मानते हैं उनका कवर पर्याप्त है 68%
वास्तविकता में पर्याप्त कवर वाले लोग 6%
बीमा के बिना फाइनेंशियल इम्युनिटी चाहने वाले 71%
अन्य सोर्स इनकम वाले लोग 37%
महंगाई के कारण सरेंडर करने वाले उल्लेख नहीं

इस रिपोर्ट से साफ है कि बीमा के महत्व को समझते हुए भी भारतीय उसे नजरअंदाज कर रहे हैं, जिससे उनकी फाइनेंशियल सुरक्षा को खतरा हो सकता है।

Working with News Industry since 2017. I hold Post Graduate Degree in Mass Communication. Belongs from Bihar. I am covering general purpose news impacting day to day life on citizens. For any feedback on. my contents write to samiksha@gulfhindi.com

Leave a comment