मुंबई में भारी बारिश के बीच भूस्खलन के कारण कांदिवली के पास वेस्टर्न एक्सप्रेस हाईवे (WEH) पर यातायात बुरी तरह प्रभावित हुआ है। शहर में पिछले 12 घंटों से भारी बारिश हो रही है और अगले दो दिनों तक भारी बारिश होने की उम्मीद है। भूस्खलन ने राजमार्ग के एक तरफ वाहनों की आवाजाही को धीमा कर दिया है, इसलिए उत्तर की ओर धीरे-धीरे यातायात बढ़ रहा है।

 

अधिकारी और पुलिसकर्मी घटनास्थल पर हैं और मलबा हटाने का प्रयास जारी है। भूस्खलन से यातायात पर भी  प्रभाव पड़ रहा है। बारिश के कारण जलभराव से विभिन्न स्थानों पर यातायात भी बाधित हुआ है। पिछले 10 घंटों में 230 मिमी से अधिक बारिश दर्ज की गई है और दोपहर में भी उच्च-ज्वार की संभावना है।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) की मुंबई और उसके उपनगरीय क्षेत्रों में मंगलवार को भारी वर्षा होने की चेतावनी के बाद आज महानगर बारिश से बेहाल है। विभाग ने मछुआरों को सलाह दी है कि वे बंगाल की खाड़ी के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र बनने के कारण पूर्वी तट पर गहरे समुद्र में नहीं जाएं। अरब सागर के ऊपर मानसून के सक्रिय होने से मुंबई और उसके आसपामस के क्षेत्रों में सोमवार सुबह बारिश शुरू हो गयी।

 

मौसम पूर्वानुमान बताने वाली एजेंसियों ने कहा था कि अगले दो दिनों में महानगर और महाराष्ट्र के अन्य इलाकों में बारिश की तीव्रता बढ़ेगी। मौसम का पूर्वानुमान बताने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट वेदर ने कहा कि मुंबईवासियों को चार और पांच अगस्त को बाहर जाने से बचने की सलाह दी जाती है। उसने कहा कि छह अगस्त से इसकी तीव्रता घटने लगेगी।

इसके अलावा आईएमडी के ओडिशा केंद्र ने कहा कि मंगलवार को बंगाल की उत्तरी खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बनने का अनुमान है। इससे राज्य के विभिन्न जिलों में भारी बारिश होगी। आईएमडी ने भारी बारिश के कारण मुंबई, ठाणे और उत्तर कोंकण के लिए रेड अलर्ट जारी किया।

 

रेड अलर्ट के अंतर्गत:

  • रेल यात्रा पर निगरानी और स्थिति बिगड़ने पर रोक
  • FLight सेवा पर भी AAI की alert जारी

GulfHindi.com

बिहार से हूँ। बिहार होने पर गर्व हैं। फर्जी ख़बरों की क्लास लगाता हूँ। प्रवासियों को दोस्त हूँ। भारत मेरा सबकुछ हैं। Instagram पर @nyabihar तथा lov@gulfhindi.com पर संपर्क कर सकते हैं।

Leave a comment

अपना कमेंट दीजिए.