रिलायंस कम्युनिकेशन अपने भरोसेमंद निवेशकों को 99 पर्सेंट से अधिक का नुकसान (Stock return) कराया है। कभी शेयर बाजार में इस शेयर का बोलबाला था और इसने अपने निवेशकों को मालामाल भी किया था, लेकिन कंपनी के बुरे दिन शुरू हुए तो इसका असर शेयरों पर पड़ने लगा।

आज इस शेयर की कीमत मात्र 2.00 रुपये रह गई है। कभी यह शेयर 820.80 रुपये (10 जनवरी 2008) पर भी पहुंच गया था। अभी इस नए साल में यह स्टॉक लगातार अपर सर्किट मार रहा है। पिछले 3 दिन में 1.90 रुपये से ₹2 रुपये पर पहुंच गया है।

बता दें 11 जनवरी 2008 को अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस कम्युनिकेशन के शेयर 792.30 रुपये पर बंद हुए थे और आज इसकी कीमत महज 2 रुपये रह गई है। 15 साल पहले जिस किसी ने इस स्टॉक में एक लाख रुपया लगाया होगा और अब तक इसमें बना हुआ है तो उसका एक लाख घटकर 1000 रुपये से भी कम रह गए होंगे। इस अवधि में रिलायंस कम्युनिकेशन 99.33 फीसद का गोता लगा चुका है।

 

आरकॉम शेयर प्राइस हिस्ट्री के मुताबिक, पिछले 15 सालों में यह शेयर 300.55 रुपये (10 मार्च 2006 का बंद प्राइस) से टूटकर 2.00 रुपये (4 जनवरी 2023) पर आ गया है। यानी इस दौरान 1 लाख का निवेश घटकर मात्र 667 रुपये के आसपास रह गया। बता दें कि जिन निवेशकों ने इस कंपनी पर भरोसा जताया था और निवेश को बनाए रखा है वे अब तक कंगाल हो चुके।

 

कर्ज में डूब गई कंपनी

अनिल धीरूभाई अंबानी समूह की कंपनी रिलायंस कम्युनिकेशंस (RCom) टेलीकॉम सेक्टर की दिग्गज कंपनियों की लिस्ट में शामिल थी, लेकिन टेलीकॉम सेक्टर में तगड़ा टैरिफ वार शुरू होने के बाद आरकॉम को भारी घाटा होने लगा। फ्री काॅल्स और सस्ता डेटा ने RCom को लगभग बर्बाद कर दिया और कंपनी भारी कर्ज में डूब गई और फिर कभी उबर नहीं पाई।

बिहार से हूँ। बिहार होने पर गर्व हैं। फर्जी ख़बरों की क्लास लगाता हूँ। प्रवासियों को दोस्त हूँ। भारत मेरा सबकुछ हैं। Instagram पर @nyabihar तथा lov@gulfhindi.com पर संपर्क कर सकते हैं।

Leave a comment