दुबई के जाने माने बिजनेसमैन और अल आदिल ट्रेडिंग के अध्यक्ष डॉ धनंजय दातार अपने कामों को लेकर हमेशा सुर्खियों में छाए रहते हैं। आज एक बार फिर उन्होंने अपने इस कदम से लाखों दिलों को जीत लिया है। दरअसल भारतीय मूल के निवासी डॉ धनंजय दातार ने  हाल ही में संयुक्त अरब अमीरात से दो चार्टर उड़ानों पर अपने टिकट प्रायोजित करने वाले एक व्यवसायी के जरिए कोरोना संकट में फंसे कुल 186 भारतीय श्रमिकों को मुफ्त में भारत भेजने का प्रवंध किया। दरअसल यूएई से भारत के लिए आने वाले उन सभी 186 लोगों की टिकट का भुगतान खुद डॉ धनंजय दातार ने किया।

NAT 200721 WORKERS2-1595318714332

गौरतलब है कि अल आदिल ट्रेडिंग के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक डॉ धनंजय दातार ने गल्फ हिन्दी(www.gulfhindi.com) को बताया कि 98 श्रमिकों को एक एमिरेट्स चार्टर फ्लाइट से पुणे के लिए रवाना किया गया था, जबकि 88 को पिछले सप्ताह मुंबई के लिए उड़दूबाई चार्टर फ्लाइट में वापस लाया गया था।

मसाला किंग के नाम से जाने जाते हैं डॉ दातार

डॉ दातार, जिन्हें उनकी दुकानों में बिकने वाले मसालों के बाद spons मसाला किंग ’के नाम से भी जाना जाता है। यूएई में उनका नाम बड़े बिजनेस किंग के तौर पर लिया जाता है।

Dr Dhananjay Datar 27th on Forbes Middle East's list

डॉ दातार ने कहा कि यह विभिन्न निकायों के साथ 1,000 से अधिक भारतीयों के टिकटों को प्रायोजित करने के अलावा भेजे गए 186 लोग है।

डॉ दातार ने कहा “मैंने विभिन्न भारतीय राज्यों जैसे केरल, तमिलनाडु, पंजाब, राजस्थान, गुजरात और असम के लोगों को घर वापसी करने में मदद की है।  उन्होंने कहा इस बार, मैं विशेष रूप से अपने गृह राज्य महाराष्ट्र के श्रमिकों के प्रत्यावर्तन को प्रायोजित करना चाहता था, जिन्होंने अपनी नौकरी खो दी थी और जो विभिन्न बीमारियों आदि से पीड़ित थे। इसी कड़ी में काम करते हुए इस बार उन्होंने महाराष्ट्र के श्रमिकों की घर वापसी को लेकर उनकी मदद की”

इसके साथ ही उन्होंने इन लोगों की घर वापसी में भी मदद की जिन लोगों के पास उनके पासपोर्ट नहीं थे। उन्होंने बताया की यूएई से महाराष्ट्र जाने वाली उड़ानों की लिस्ट बेहद कम है, ऐसे हालातों में उनके लिए यह घर वापसी बेहद लंबे इंतजार के बाद आई है।

 GulfHindi.com

बिहार से हूँ। बिहार होने पर गर्व हैं। फर्जी ख़बरों की क्लास लगाता हूँ। प्रवासियों को दोस्त हूँ। भारत मेरा सबकुछ हैं। Instagram पर @nyabihar तथा lov@gulfhindi.com पर संपर्क कर सकते हैं।

Leave a comment