कोरोनावायरस काे फैलने से रोकने के लिए देश के हवाई अड्डों की सुरक्षा के लिए तैनात केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) ने योजना बनाई है। नागरिक उड्डयन मंत्रालय काे भेजी याेजना में सुझाव दिया गया है कि उड़ानें फिर शुरू होने पर यात्रियों को मास्क, दस्ताने और सैनिटाइजर जैसे सुरक्षा उपायाें के साथ उनकी उड़ान के समय से दो घंटे पहले हवाई अड्डे पर पहुंचने काे कहा जाए। सीआईएसएफ के विशेष निदेशक (हवाई अड्डे) जीए गणपति के मुताबिक, मंत्रालय इन सुझावाें पर िवचार कर रहा है।
 

 

  • यात्रियों और कर्मचारियों के लिए हवाई अड्डों के हर प्रवेश अाैर निकास द्वार पर सैनिटाइजर की बोतल रखी जाएगी।
  • विमान में हर दो यात्रियाें के बीच एक सीट खाली रखी जाएगी।
  • यात्रियाें काे टिकट बुक करते समय अपने घर/सेल्फ क्वारेंटाइन इतिहास का विवरण देना होगा।
  • यदि कोई यात्री सेल्फ क्वारेंटाइन इतिहास के बाद उड़ान भरता है, तो उसे सीआईएसएफ के आइसोलेशन चेकिंग पॉइंट से गुजरना हाेगा। वहां सीआईएसएफ अधिकारी पूर्ण व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) सूट से ढंके हाेंगे।
  • ये सुझाव हाे सकते हैं लागू

 

ट्रेन में जनरल डिब्बे नहीं हाेंगे, सिर्फ अारक्षित टिकट पर सफर कर सकेंगे

सूत्राें के अनुसार, 15 अप्रैल से चलने वाली ट्रेनाें में जनरल बाेगी नहीं हाेगी। सिर्फ अारक्षित टिकट पर यात्रा हो सकेगी। साेशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए अाधी सीटें ही बुक की जाएंगी। बीच की बर्थ बुक नहीं होगी। काेराेना संक्रमण के हाॅट स्पाॅट पर ट्रेनें नहीं रुकेंगी। साथ ही भीड़-भाड़ से बचने के लिए स्टेशनाें पर ठहराव का समय भी दोगुना किया जाएगा।

घरेलू रूटों पर कम उड़ाने शुरू होंगी, उड़ानों के बीच काफी अंतर रखा जाएगा
घरेलू रूटाें पर बेहद कम संख्या में उड़ानें शुरू करने का विचार है। उड़ानाें के बीच काफी अंतर रखा जाएगा। भीड़-भाड़ से बचने के िलए रिपाेर्टिंग टाइम 45 मिनट से बढ़ा दाे घंटे करने की तैयारी है।GulfHindi.com

बिहार से हूँ। बिहार होने पर गर्व हैं। फर्जी ख़बरों की क्लास लगाता हूँ। प्रवासियों को दोस्त हूँ। भारत मेरा सबकुछ हैं। Instagram पर @nyabihar तथा lov@gulfhindi.com पर संपर्क कर सकते हैं।

Leave a comment