कोरोना वायरस संक्रमण के बीच अरब देशों में अच्छी खासी खलबली मची हुई है.  लगातार अलग-अलग नए गाइडलाइन जारी किए जा रहे हैं इसी बीच एक और गाइडलाइन जारी की गई है जिसके अनुसार कामगारों को DEPORT कर देने का फैसला किया गया है.

 कुवैत के  आंतरिक मंत्रालय ने सुरक्षाबलों के टीम को पूरे कुवैत में फैला दिया है और कहां है 12 मार्च से 26 मार्च के बीच अगर कोई भी प्रवासी कामगार 27 फरवरी के बाद आया है या उसे होम आइसोलेशन के लिए निर्देश दिया गया है और वह सड़कों पर या बाहर घूमते हुए पकड़ा जाता है तो उसे तुरंत कुवैत से DEPORT कर दिया जाएगा.

 सूत्रों ने कहा है कि आंतरिक मंत्रालय के द्वारा लेफ्टिनेंट जनरल ईशान ऑल ना हम ने सुबह में एक मीटिंग के दौरान यह बात पर सब को राजी किया और निर्देश दिया कि जो भी कामगार कुवैत के द्वारा बनाए गए कानून को पालन नहीं कर पा रहे हैं उन्हें तुरंत  निर्वासन जेल में डाल दिया जाएगा.

सूत्रों ने यह भी कहा कि सुरक्षा अफसर चेकप्वाइंट पर प्रवासी कामगारों के सिविल नंबर पूछेंगे जिसके जरिए वह यह जानकारी हासिल कर पाएंगे कि कामगार कुवैत देश में कब पहुंचा इसके बाद इंस्पेक्शन चैंपियन के द्वारा उनकी आगे की जांच की जाएगी.

 अतः आप सब से अनुरोध है कि अगर आप कुवैत देश में हैं तो कुवैत देश के द्वारा जारी किए गए नियम कानून को सख्ती से पालन करें अन्यथा बाहर घूमते पकड़े गए तो आपका  सिविल नंबर पूछकर निर्वासन जेल पहुंचा दिया जाएगा. यह नियम कानून केवल कोरोनावायरस के फैलाव को रोकने के लिए जारी किया गया है.GulfHindi.com

बिहार से हूँ। बिहार होने पर गर्व हैं। फर्जी ख़बरों की क्लास लगाता हूँ। प्रवासियों को दोस्त हूँ। भारत मेरा सबकुछ हैं। Instagram पर @nyabihar तथा lov@gulfhindi.com पर संपर्क कर सकते हैं।

Leave a comment

Cancel reply