घरेलू एलपीजी कंज्यूमर्स (Domestic LPG Consumers) को अब सिलेंडर के लिए राशनिंग की प्रक्रिया झेलनी पड़ेगी. अब नए नियमों के हिसाब से एक कनेक्शन पर सालभर में केवल 15 सिलेंडर ही मिलेंगे.

 

किसी भी सूरत में इससे ज्यादा सिलेंडर नहीं दिए जाएंगे. वहीं, एक महीने का कोटा भी तय कर लिया गया है. एक महीने के अंदर दो से ज्यादा सिलेंडर कोई भी उपभोक्ता नहीं ले सकता. आपको बता दें कि अभी तक घरेलू गैर सब्सिडी कनेक्शन (Non Subsidy Connection) धारक अपनी मनचाही संख्या में सिलेंडर पा सकते थे.

इन शिकायतों के मद्देनजर लिया गया यह फैसला
डिस्ट्रीब्यूटर्स द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, राशनिंग के लिए सॉफ्टवेयर में बदलाव किया गया है. यह तत्काल प्रभाव से लागू किया जा चुका है. बता दें, यह स्टेप इसलिए लिया गया है, क्योंकि काफी समय से विभाग को शिकायतें मिल रही थीं कि घरेलू गैर सब्सिडी की रीफिल कॉमर्शियल से सस्ती होने की वजह से वहां इस्तेमाल में आने लगी थी.

सब्सिडी वालों को मिलेंगे केवल 12 ही सिलेंडर
जानकारी के मुताबिक, तीनों तेल कंपनियों के कंज्यूमर्स पर ये बदलाव लागू हुए हैं. जो लोग सब्सिडी वाली डोमेस्टिक गैस के लिए रजिस्टर्ड हैं, उन्हें साल में केवल 12 सिलेंडर ही इस रेट पर मिलेंगे. अगर इससे ज्यादा की जरूरत पड़े तो बिना सब्सिडी वाला सिलेंडर ही लेना पड़ेगा.

 

15 से ज्यादा नहीं हो सकती संख्या
बताया जा रहा है कि राशनिंग के तहत एक कनेक्शन पर महीने में ज्यादा से ज्यादा दो सिलेंडर ही मिल सकेंगे. हालांकि, किसी भी सूरत में यह संख्या साल भर में 15 से ज्यादा नहीं हो सकती. अगर किसी कंज्यूमर के यहां गैस का ज्यादा खर्चा आ रहा है तो उसे इस बात का प्रूफ देते हुए ऑयल कंपनी के अधिकारी से परमिशन लेनी होगी. तभी जाकर एक्स्ट्रा रीफिल मिल सकती है.

बिहार से हूँ, भारतीय होने पर गर्व हैं. मध्य पूर्व Asia से रूबरू कराता हूँ और फ़र्ज़ी खबरों की क्लास लगाता हूँ. Download Gulfhindi MOBILE APP

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *