लगातार हवाई अड्डों पर कामगारों के पास काम करने के बीच रखने के उपरांत भी इस वक़्त उन्हें लौटाया जा रहा है उनके टिकट रद्द होने के नाते ही बताए जा रहे हैं इसके साथ ही सबसे बड़े कामगार देश भारत पाकिस्तान बांग्लादेश नेपाल के साथ अन्य देशों में यह स्थिति उत्पन्न हो गयीं हैं.

पश्चिम एशियाई देश कतर ने कोरोना वायरस ‘कोविड-19’ के मद्देनजर भारत तथा कुछ अन्य देशों के नागरिकों के उसकी सीमा में प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है।

कतर के सरकारी आदेश में कहा गया है कि भारत, बंगलादेश, चीन, मिस्र, ईरान, इराक, लेबनान, नेपाल, पाकिस्तान, फिलिपिंस, दक्षिण कोरिया, श्रीलंका, सीरिया और थाईलैंड के नागरिकों के 09 मार्च से उसके यहाँ प्रवेश पर अस्थायी रोक रहेगी। आदेश में कहा गया है कि इस आदेश के बाद उक्त देशों से सभी तरह के नागरिकों के कतर में प्रवेश पर रोक रहेगी, भले ही उनके पास वहाँ रहने या काम करने का परमिट ही क्यों न हो। वीजा ऑन अराइवल भी रद्द रहेगा।

इसके बाद कतर की सरकारी विमान सेवा कंपनी कतर एयरवेज ने भी इन देशों से वहाँ जाने वाले यात्रियों की सारी बुकिंग रद्द कर दी है। यहाँ तक कि कतर की राजधानी दोहा में ठहराव के साथ आगे की यात्रा के लिए भी जिन यात्रियों ने बुकिंग कराई है उनके भी टिकट रद्द कर दिये गये हैं। एयरलाइन ने प्रभावित यात्रियों को पूरा पैसा वापस देने का भी विकल्प दिया है।
 GulfHindi.com

बिहार से हूँ। बिहार होने पर गर्व हैं। फर्जी ख़बरों की क्लास लगाता हूँ। प्रवासियों को दोस्त हूँ। भारत मेरा सबकुछ हैं। Instagram पर @nyabihar तथा [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं।

Leave a comment