महाराष्ट्र के ठाणे जिले के समृद्धि एक्सप्रेस-वे निर्माण स्थल पर हुई दुर्घटना में कम से कम 20 लोगों की मौत हो गई है, जिसमें 10 श्रमिक और 2 इंजीनियर शामिल हैं। दो ठेकेदारों के खिलाफ लापरवाही के आरोप में मामला दर्ज किया गया है।

यह दुर्घटना मुंबई से 80 किलोमीटर दूर शाहपुर तहसील के सरलांबे गांव के पास हुई, जहाँ एक 700 टन भारी ‘गर्डर लॉन्चर’ 35 मीटर की ऊचाई से गिर गया। इसके चलते, पुल के एक स्लैब (पट्टी) पर मौजूद लोगों को चोट पहुंची।

महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने जांच का आदेश दिया है। वे चाहते हैं कि यह सुनिश्चित हो कि इस तरह की घटनाएं भविष्य में न हों।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हादसे पर शोक व्यक्त किया। मुंबई और नागपुर को जोड़ने वाले 701 किलोमीटर लंबे एक्सप्रेसवे के निर्माण कार्य के दौरान पिछले 6 महीने में 88 लोगों की जान चली गई है।

महत्वपूर्ण जानकारी

मौत की संख्या घायलों की संख्या मामला दर्ज किया गया घटनास्थल दुर्घटना का कारण
20 3 हां ठाणे जिला ‘गर्डर लॉन्चर’ गिरना

इस हादसे की जांच जल्द ही शुरू होगी। हमें उम्मीद है कि इससे भविष्य में ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए सुरक्षा कानूनों और नियमों की समीक्षा और सख्ती होगी।

बिहार से हूँ। बिहार होने पर गर्व हैं। फर्जी ख़बरों की क्लास लगाता हूँ। प्रवासियों को दोस्त हूँ। भारत मेरा सबकुछ हैं। Instagram पर @nyabihar तथा [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं।

Leave a comment