एक नजर पूरी खबर

  • सऊदी-यूएई भेजने के नाम पर फर्जीवाजा
  • पीडित युवक से दलाल ने हड़पे 4.30 लाख रूपये
  • मामले में अब तक नहीं हुई कोई कार्रवाई

 

देश के अलग-अलग हिस्सों से अक्सर सऊदी-यूएई भेजने के नाम पर फर्जीवाड़ा करने के मामले सामने आते रहते है। ऐसे में विदेश भेजने के नाम पर 4.30 लाख रुपए हड़पने का मामला सामने आया है। मामले में शहर कोतवाल ने पीड़ित की सुनवाई पर कोतवाली में धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज हुआ है।

 

 

गौरतलब है कि शहर के वार्ड 36 मोहल्ला बिसातियान निवासी खुर्शीद अहमद ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि 15 अगस्त 2019 को आरोपी यूनुफ पुत्र मोहम्मद उसके पास आया और कहा कि उमरदीन व नवीन विदेश भेजने का काम करते हैं। तुम्हारे पुत्र रियाज को भी सउदी अरब रियाद में भिजवा कर मछली पैकिंग हेल्पर के तौर पर महीने के 50 हजार रुपए सैलरी के दिलवा दूंगा, लेकिन बदले में उसे डेढ़ लाख रुपए देने होंगे। इसके बाद पीड़ित ने यूनुस को 10 हजार रुपए दिए तो उसने उसके बेटे रियाज का जयपुर में मेडिकल करवाया। इसके बाद कहा कि टिकट बन गई है। सारे रुपए तैयार रखना।

 

यूनुस की बात पर भरोसा कर रियाज ने उसे एक लाख 30 हजार रुपए और दे दिए। पूरे पैसे देने के बाद उसने रियाज को विदेश भेज दिया। वहां रियाज और उसके साथ गए चार-पांच लोगों के पासपोर्ट छीन लिए और उन्हें बताई गई कंपनी के बजाय दूसरी जगह मछली पकड़ने के लिए लगा दिया। उनसे ओवर टाइम भी करवाया और पगार भी नहीं दी।

आरोप है कि दलाल यूनुफ ने फर्जी वीजा देकर उसके बेटे को वहां फंसा दिया है। वहीं दूसरी ओर रियाज ने जब कंपनी से कहा कि उसे वापस जाना है तो उससे उन्होंने 14 हजार रियाल मांगे। परिवार के लोगों ने किसी तरह 11 हजार रियाल जमा करवाई तो रियाज को वापस यहां भेजा। इसके बाद जब दलाल यूनुफ से रुपए वापस मांगे तो उसने देने से मना कर दिया।

वहीं इस मामले पर रियाज के पिता खुर्शीद का आरोप है कि वह शिकायत लेकर कोतवाल के पास गया, लेकिन अब तक कोई सुनवाई नहीं हुई।

 GulfHindi.com

बिहार से हूँ। बिहार होने पर गर्व हैं। फर्जी ख़बरों की क्लास लगाता हूँ। प्रवासियों को दोस्त हूँ। भारत मेरा सबकुछ हैं। Instagram पर @nyabihar तथा lov@gulfhindi.com पर संपर्क कर सकते हैं।

Leave a comment

Cancel reply