एक नजर पूरी खबर

  • Showbiz world में छाई दुख की लहर
  • अभिनेता मोहम्मद हमजा की मृत्यु पर जताया शोक
  • 87 साल की उम्र में हुआ मोहम्मद हमजा का निधन

Saudi drama king Muhammad Hamza dies

सऊदी नाटक आंदोलन में अहम भूमिका निभाने वाले मुहम्मद हमज़ा का बुधवार को 87 वर्ष की आयु में निधन हो गया।उनके निधन करे साथ ही सऊदी वल्ड में शोक की लहर छा गई है।

इस दौरान सऊदी मनोरंजन की दुनिया ने दिग्गज सऊदी अभिनेता मोहम्मद हमजा को श्रद्धांजलि दी। बता दे मुहम्मद हमजा को सऊदी नाटक की दुनिया का पिता माना जाता था। ऐसे में सऊदी निर्माता और लेखक हमजा ने अपनी अविस्मरणीय कहानियों और प्रदर्शन के साथ प्रशंसकों की पीढ़ियों का मनोरंजन किया। उनके अभिमय को हमेशा सऊदी नाटक की दुनिया में याद किया जायेगा।

मालूम हो कि हमजा ने 1982 में “असाबी ‘अल-ज़मान” (समय की उँगलियाँ), 1989 में “लैलात हुरोब” (भाग जाने की रात), 1992 में “क़सर फ़ाक़ अल-रिमल” (रेत के ऊपर महल) और 2013 में “दमू अल-रिजाल” (पुरुषों के आंसू), जबकि 2013 में जेद्दावी ड्रामा सीरीज़ “अहल अल-बालाद” (स्थानीय लोग) में अभिनय किया था।

इस दौरान सऊदी अखबार ओकाज़ के साथ पहले के एक इंटरव्यू में उनके बेटे लोई ने कहा था कि “मेरे पिता ने रंगीन स्क्रीन से पहले कला में अपना करियर शुरू किया, लेकिन उनकी शुरुआत जो बहुत से लोग नहीं जानते हैं कि अल-वेहदा और अल-अहली फुटबॉल क्लब में वह एक फुटबॉल खिलाड़ी थे और उन्होंने स्ट्राइकर के रूप में फुटबॉल खेला था।”

इसके बाद हमजा ने रेडियो के माध्यम से कला के क्षेत्र में शामिल हो गए और धार्मिक कार्यों में भाग लिया। “1980 के दशक में, उन्होंने अपने खर्च पर एक नाटक लिखा और खुद ही उस पर अभिनय भी किया, जिसमें उन्होंने बहुत बड़ी सफलता हासिल की। इसी के साथ उनके अभिनय की शुरूआत हुई।

 

 GulfHindi.com

बिहार से हूँ। बिहार होने पर गर्व हैं। फर्जी ख़बरों की क्लास लगाता हूँ। प्रवासियों को दोस्त हूँ। भारत मेरा सबकुछ हैं। Instagram पर @nyabihar तथा [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं।

Leave a comment