भारतीय बाजार में सुजलॉन के Share की चर्चा काफी दिनों से मल्टीबैगर के रूप में होते आ रही है.  कंपनी ने हाल ही में 52 सप्ताह का उच्चतम स्तर 34.10 का आंकड़ा छुआ था. लेकिन अब इस कंपनी के Share ने पिछले तीन दिनों में लोगों को अच्छा खासा झटका दिया है.

पिछले 5 दिनों से डूबा रहा है लुटिया.

सुजलॉन के Share की बात करें तो पिछले 5 दिनों से इसने निवेशकों को निराश किया है और 34 रुपए से गिरकर 31.6 रुपए पर 30 अक्टूबर को बंद हुआ है. इस दरमियान कंपनी ने ₹30 का भी आंकड़ा छुआ.

आपको बताते चले कि पिछले 1 महीने में कंपनी ने जहां 17.25 प्रतिशत का रिटर्न मुहैया कराया है तो वहीं मा 6 महीने में कंपनी ने ₹8 से ₹34 तक का सफर तय किया था जिसके वजह से निवेशकों को 290% का फायदा मिला है.

इस बड़े फायदे की वजह से ही सुजलॉन एनर्जी के Share को मल्टीबैगर के तौर पर बाजार में लोग कहना शुरू कर चुके हैं.

सुजलॉन एनर्जी के शेयर बाजार में उज्जवल भविष्य के तौर पर इसलिए भी देखे जा रहे हैं क्योंकि भारत में रिन्यूएबल एनर्जी के ऊपर ज्यादा ध्यान दिया जा रहा है और कंपनी पवन ऊर्जा के क्षेत्र में एक बड़ा स्थान रखती है.

यह लेख सुजलॉन एनर्जी के पिछला रिकॉर्ड परफॉर्मेंस की जानकारी का विश्लेषण है इसे किसी भी प्रकार से बाजार में सीधे तौर पर निवेश की टिप्पणी न समझे.

बिहार से हूँ। बिहार होने पर गर्व हैं। फर्जी ख़बरों की क्लास लगाता हूँ। प्रवासियों को दोस्त हूँ। भारत मेरा सबकुछ हैं। Instagram पर @nyabihar तथा lov@gulfhindi.com पर संपर्क कर सकते हैं।

Leave a comment

Cancel reply