जापानी वाहन निर्माता कंपनियां, टोयोटा और सुजुकी, की साझेदारी ने वाहन उद्योग में एक नई दिशा निर्धारित की है। इस साझेदारी के फलस्वरूप, दोनों कंपनियों ने कई समान मॉडल लॉन्च किए हैं। उदाहरण के लिए, मारुति सुजुकी बलेनो और टोयोटा ग्लैंजा, मारुति सुजुकी ग्रैंड विटारा और टोयोटा अर्बन क्रूजर हाईराइडर आदि। ये सभी मॉडल दिखने में समान हैं, परंतु उनके नाम अलग हैं।

मारुति सुजुकी का अपने मॉडलों पर जोर

हालांकि, सुजुकी ने यह साफ किया है कि वे अपनी लोकप्रिय ऑफ-रोड एसयूवी जिम्नी और हैचबैक स्विफ्ट को टोयोटा के साथ साझा नहीं करेंगे। मारुति से जुड़े सूत्रों का मानना है कि ये दोनों मॉडल कंपनी के डीएनए का अहम हिस्सा हैं और टोयोटा के बैज के साथ इनकी लोकप्रियता प्रभावित हो सकती है।

टोयोटा की योजनाएं और चुनौतियां

टोयोटा ने मारुति सुजुकी की जिम्नी और स्विफ्ट के रीबैज्ड मॉडल लॉन्च करने की योजना बनाई थी, जो अब अधर में लटक गई है। टोयोटा लाइफस्टाइल एसयूवी मारुति सुजुकी जिम्नी का एक सस्ता 4×4 विकल्प लाना चाहती थी, जो फॉर्च्यूनर के मुकाबले अधिक किफायती होता।

बाजार प्रतिस्पर्धा और संभावनाएं

इस बीच, स्कोडा अपनी नई इलेक्ट्रिक कार लाने वाली है, जिससे हुंडई और किआ के मॉडलों के बाजार में टेंशन बढ़ सकती है। मारुति सुजुकी की स्विफ्ट की हर महीने 17,000 यूनिट्स की बिक्री हो रही है, जो इसकी लोकप्रियता का प्रमाण है। जिम्नी की बिक्री में गिरावट के बावजूद, इसे टोयोटा के साथ साझा करने से मारुति सुजुकी को बिक्री में बढ़ोतरी मिल सकती है।

 

टोयोटा और सुजुकी की साझेदारी ने बाजार में नई संभावनाओं को जन्म दिया है। हालांकि, अपने लोकप्रिय मॉडलों को संरक्षित रखने की मारुति सुजुकी की इच्छा ने इस साझेदारी में नए मोड़ ला दिए हैं। वाहन निर्माताओं के बीच इस तरह की साझेदारियां बाजार में नए प्रतिस्पर्धी परिदृश्यों को जन्म देती हैं और ग्राहकों को विविधता और विकल्प प्रदान करती हैं.

बिहार से हूँ। बिहार होने पर गर्व हैं। फर्जी ख़बरों की क्लास लगाता हूँ। प्रवासियों को दोस्त हूँ। भारत मेरा सबकुछ हैं। Instagram पर @nyabihar तथा [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं।

Leave a comment