मंगलवार को बचावकर्मियों ने सिल्कयारा सुरंग में 10 दिनों से फंसे कामगारों का पहला वीडियो जारी किया। इस वीडियो को एक एंडोस्कोपिक कैमरा के माध्यम से, जो खाने के लिए बने 6-इंच के वैकल्पिक पाइपलाइन के जरिए भेजा गया था, कैप्चर किया गया। इस वीडियो में, कामगार पीले और सफेद हेलमेट पहने नजर आ रहे हैं।

वीडियो में कामगारों की स्थिति

वीडियो में, कामगारों की वर्तमान स्थिति और उनके हाव-भाव को देखा जा सकता है। यह वीडियो उनके परिवारवालों और बचाव दल के लिए एक अहम संकेत है कि वे अभी जीवित हैं और उन्हें बचाने के लिए प्रयास जारी रखे जा सकते हैं। इस वीडियो के माध्यम से बचाव दल ने कामगारों की स्थिति का आकलन किया है।

बचाव अभियान की प्रगति

यह वीडियो बचाव अभियान के दौरान की एक महत्वपूर्ण प्रगति है। बचाव दल इस वीडियो के आधार पर और अधिक सटीकता से कामगारों तक पहुँचने की योजना बना सकता है। यह वीडियो न केवल बचाव दल के लिए, बल्कि कामगारों के परिवारों और चिंतित जनता के लिए भी एक उम्मीद की किरण है।

उत्तरखंड के सिलक्यारा सुरंग में फंसे 41 श्रमिकों को बचाने को लेकर रेस्क्यू अभियान 24 घंटे संचालित हो रहा है। वहीं सुरंग के अंदर फंसे श्रमिकों की पहली तस्वीर सामने आई। तस्वीर में सभी श्रमिक सुरक्षित दिखाई दे रहे हैं। सिलक्यारा सुरंग की ओर से अमेरिकन औगर मशीन से एस्केप टनल बनाने का कार्य फिर से शुरू होने वाला है।

बिहार से हूँ। बिहार होने पर गर्व हैं। फर्जी ख़बरों की क्लास लगाता हूँ। प्रवासियों को दोस्त हूँ। भारत मेरा सबकुछ हैं। Instagram पर @nyabihar तथा [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं।

Leave a comment