उत्तर प्रदेश सरकार ने गोरखपुर में अब से स्मार्ट RC बनने का निर्देश दे दिया है स्मार्ट R.C लाने का अहम उद्देश है की कागज से छुटकारा पाना गोरखपुर में दोपहियाऔर चार पहिया दोनों को मिलाकर कुल 7 से 8 हजार वाहनों का रजिस्ट्रेशन हर महीने होता है।

अभी तक आरसी के लिए A4 पेपर पर प्रिंट किया जाता है। एक हीस्मार्ट RC पर वाहन केरजिस्ट्रेशन से लेकर और फिटनेस और अन्य डिटेल्स मौजूद रहेंगी। अभी तक वाहन मालिक को RTO से जो RC मिल रही है। वह कागज की होती है। लिहाजा एक कागज पर वाहन की पूरी डिटेल्स नहीं पाती।

A RTO अरूण कुमार ने बताया कि स्मार्ट RC बनाने की तैयारी है। इससे वाहन मालिकऔर चेकिंग स्टॉफ दोनों को सुविधा मिलेगी। फर्जी पेपर से चलने वाले वाहनों पर भी पूरी तरह से रोक लगेगी। वाहन मालिक को हर सर्टिफिकेट के लिएअलगअलग पेपर लेकर चलना पड़ता है। वहीं कागज के नष्ट होने की संभावना भी बनी रहती है। लेकिन स्मार्ट RC बन जाने से इन सभी समस्याओं से निजात मिलजाएगी। इसके ऑनलाइन ट्रैकिंग होने की वजह से सभी डिटेल्स को आसानी से वेरीफाई भी किया जा सकेगा। RC के नष्ट होने का खतरा भी नहीं रहेगा।

A4 पेपरवाली RC में अक्सर देखा जाता है कि वाहन चोर और अपराधी मैनुअल छेड़छाड़ कर धड़ल्ले से वाहन सड़कों पर दौड़ाते हैं। लेकिन स्मार्ट RC जारी होने के बाद इनएक्टिविटी पर रोक लगेगी। इसका पूरा ब्योरा ऑनलाइन होने की वजह से फर्जीवाड़े पर पूरी तरह से लगाम लग सकेगी। साथ ही वाहन की हर डिटेल को ऑनलाइनवेरीफाई किया जा सकेगा।

Serving Arab, India Live News Updates since 2018. You can share your feedback, requests on gulfhindi@gulfhindi.com

Leave a comment

अपना कमेंट दीजिए.